Tuesday, July 16, 2024
Google search engine
HomeEntertainmentक्या फिटकरी के पानी से पोछा लगाने से नकारात्मकता हो जाती है...

क्या फिटकरी के पानी से पोछा लगाने से नकारात्मकता हो जाती है दूर? जानिए वास्तु क्या कहता है

Google search engine

Water Remove Negativity: वास्तु शास्त्र हमें कई ऐसी बातें बताता है जिससे घर की नकारात्मकता को कम किया जा सकता है। शास्त्रों के अनुसार, हमारे आस-पास ऐसी कई चीजें हैं जो हमारे घर और हमारे जीवन में सकारात्मकता ला सकती हैं। ऐसी ही एक चीज है फिटकरी। आपने पहले भी फिटकरी के कई उपाय देखे होंगे जहां इसका उपयोग सौंदर्य उपचार से लेकर वास्तु दोषों को कम करने तक कई चीजों में किया जा सकता है।

यह घर में आसानी से मिल जाता है और इसे घर के किसी भी कोने में रखा जा सकता है। फिटकरी से जुड़ा कोई भी टोटका करने से पहले इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि फिटकरी लाने के कुछ ही दिनों के अंदर इसका रंग बदलने लगता है। यह एक संकेत है कि आपको फिटकरी बदल देनी चाहिए।

ज्योतिषाचार्य डॉ. आरती दहिया ने फिटकरी के पानी के उपायों के बारे में बताया है. डॉ. आरती के अनुसार, ज्योतिषीय मान्यताओं में अलग-अलग ग्रह हमारे जीवन को प्रभावित करते हैं और फिटकरी शनि ग्रह का संतुलन बनाए रखने में मदद करती है।

यदि पोछे के पानी में फिटकरी मिला दी जाए तो क्या होता है?

वास्तु शास्त्र में सकारात्मक ऊर्जा और नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव बहुत अधिक होता है। ऐसे में अगर पोंछे के पानी में फिटकरी मिला दी जाए तो नकारात्मक ऊर्जा कम हो जाएगी। जैसा कि बताया गया है, फिटकरी का संबंध शनि ग्रह से है। यह शनि के प्रभाव को कम करने में मदद करता है। अगर घर में लंबे समय से परेशानी चल रही है तो फिटकरी काफी मददगार साबित हो सकती है।

Water Remove Negativity: फिटकरी आर्थिक समस्याओं को कम करने में मदद करती है

वास्तु शास्त्र के अनुसार फिटकरी का एक काम यह भी है कि यह आर्थिक स्थिति को मजबूत कर सकती है।

फिटकरी के पानी से पोछा लगाने का समय भी निश्चित करना चाहिए। ऐसा तभी करना चाहिए जब सूर्य की

किरणें घर पर पड़ रही हों। अर्थात ब्रह्म मुहूर्त के बाद और शाम होने से पहले का समय। आप घर में सुबह

और शाम दोनों समय पोछा लगा सकते हैं। अगर आपके घर में काफी समय से किसी तरह की नकारात्मकता

बढ़ती जा रही है तो फिटकरी का उपाय आपके लिए उपयोगी साबित हो सकता है।

आखिर फिटकरी को इतना शक्तिशाली क्यों माना जाता है?

इसका कारण विज्ञान और ज्योतिष दोनों से जुड़ा है। दरअसल, विज्ञान का मानना है कि फिटकरी पानी को शुद्ध

करती है और इसका मुख्य काम कीटाणुओं को मारना है। इसी कारण इसका उपयोग सौंदर्य और स्वास्थ्य उपचार

में किया जाता है। इसके अलावा अगर ज्योतिष शास्त्र की ओर देखा जाए तो यहां फिटकरी को शुद्धि के लिए उत्तम

चीज माना जाता है। यानी विज्ञान और ज्योतिष दोनों के अनुसार फिटकरी चीजों को पवित्र करती है।

Water Remove Negativity: यही कारण है कि

फिटकरी स्नान को ज्योतिष शास्त्र में भी अच्छा माना गया है। हर व्यक्ति, वस्तु और स्थान की अपनी अलग ऊर्जा

होती है और फिटकरी इस ऊर्जा को सही करने का काम करती है। यदि आपके आसपास का वातावरण शुद्ध

रहेगा तो जीवन अधिक सफल होगा।

पोछा लगाते समय फिटकरी का उपयोग कैसे करें?

सबसे पहले आपको साफ पानी लेना है. इसके लिए आप वॉटर फिल्टर से निकले पानी का भी इस्तेमाल कर

सकते हैं। हां, एसी के पानी के इस्तेमाल से बचें क्योंकि इसे शुद्ध नहीं माना जाता है। इसके बाद उस पानी में

फिटकरी का एक छोटा सा टुकड़ा डाल दें या फिटकरी के टुकड़े को 1-2 मिनट तक पानी के अंदर घुमाते रहें.

यहां ज्यादा फिटकरी का इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं है. आप चाहें तो पोछे के पानी में फिटकरी का

पाउडर भी मिला सकते हैं.

Water Remove Negativity: पोछा लगाते समय

ऐसे कपड़े का उपयोग न करें जो बहुत पुराना हो या जिसमें मिट्टी लगी हो। अगर आप समय-समय पर पोछा

लगाने का कपड़ा बदलते रहें तो घर साफ-सुथरा रहेगा और नकारात्मक ऊर्जा भी कम होगी। कई बार ऐसी

पुरानी चीजें वास्तु दोष का कारण बन जाती हैं और समय-समय पर इन्हें हटा देना ही बेहतर होता है। आपने

देखा होगा कि कई बार पोछा लगाने वाला कपड़ा इतना पुराना हो जाता है कि उससे बदबू आने लगती है और

ठीक से साफ भी नहीं किया जाता है। ऐसे पोछा लगाने वाले कपड़े घर में नकारात्मकता लाते हैं।

अगर आप हमारी कहानियों से जुड़ते हैं

यदि आपके कोई प्रश्न हैं, तो कृपया हमें लेख के ऊपर टिप्पणी बॉक्स में बताएं। हम आपको सही जानकारी प्रदान

करने का प्रयास करते रहेंगे। अगर आपको ये कहानी पसंद आई हो तो कृपया इसे शेयर करें. ऐसी और कहानियां

पढ़ने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments