Tuesday, July 16, 2024
Google search engine
HomeLatestओंकार महायज्ञ में आहुतियां डालकर की सर्वकल्याण की कामना

ओंकार महायज्ञ में आहुतियां डालकर की सर्वकल्याण की कामना

Google search engine

Omkar Mahayagya: सर्व कल्याण की कामना के साथ जय ओंकार यज्ञ समिति की ओर से सामूहिक ओंकार महायज्ञ का आयोजन किया गया। जाटो गेट स्थित शिवालय में हुए इस महायज्ञ में श्रद्धालुओं ने उत्साह के साथ हिस्सा लिया। सैकड़ों परिवारों ने अलग-अलग कुंड पर बैठकर जय गुरुदेव जय ओंकार के 1008 मंत्रों के साथ यज्ञ में आहुतियां डाली।

शुभारंभ कन्याओं ने सामूहिक रूप से ज्योति जलाकर किया

यज्ञ की पूर्णाहुति जय ओंकार अंतरराष्ट्रीय सेवाश्रम संघ एवं भगवान श्री ब्रह्मा मंदिर कुरुक्षेत्र के संस्थापक स्वामी

शक्तिदेव महाराज ने डाली। ओंकार यज्ञ का शुभारंभ कन्याओं ने सामूहिक रूप से ज्योति जलाकर किया।

यज्ञ उपरांत सभी ने सामूहिक रूप से 251 कन्याओं का पूजन करके सबके कल्याण की मन्नतें मांगी।

कन्या पूजन के बाद अटूट लंगर बरताया गया। यज्ञ में मंत्रोच्चारण पंडित राधेश्याम, पंडित मांगे राम और पंडित

हरिराम शर्मा ने किया। पूर्व पार्षद जोगिंद्र चौहान और समाजसेवी ओपीएस ज्वैलर्स के संचालक प्रकाश बंसल

ने गणेश पूजन, समाजसेवी सीमा खन्ना कश्यप ने कलश पूजन किया। इसके अलावा पूर्व डिप्टी मेयर

मनोज वधवा और निवर्तमान पार्षद युद्धवीर सैनी ने कन्या पूजन किया।

Omkar Mahayagya: नवरात्र में देवी का पूजन किया जाता है

यज्ञ उपरांत भजन संध्या का भी आयोजन हुआ है। जय ओंकार संकीर्तन मंडल के सदस्यों ने भजनों के माध्यम से

गुरु महिमा का बखान किया। स्वामी शक्तिदेव महाराज ने श्रद्धालुओं को प्रेरणा देते हुए कहा कि किसी भी शुभ

कार्य से पहले यज्ञ अवश्य करना चाहिए। नवरात्र में देवी का पूजन किया जाता है, इन नौ दिनों कन्याओं का

पूजन करना 33 करोड़ देवी-देवताओं के पूजन के समान है। यज्ञ भगवान मां दुर्गा की आत्मा है और दुर्गा

संसार की पालक भी हैं। दुर्गा स्तुति के पाठ में भी मुक्ति का द्वार देवी मां को बताया गया है।

आने वाला कोई भी जीव भूखा न रहे

महामाया के रूप में देवी मां ही संसार को चला रही है। प्रत्येक आध्यात्मिक कार्य के दौरान यह भी ध्यान रखना चाहिए

कि वहां आने वाला कोई भी जीव भूखा न रहे। क्योंकि आध्यात्मिक कार्य तभी संपूर्ण माने जाते हैं। सभी को अपने

घर में हर शुभ कार्य पर कन्याओं का पूजन करने का संकल्प भी दिलाया गया। इस अवसर पर संघ संचालक

पंडित शिव नारायण दीक्षित, समिति के सदस्य जगमोहन शर्मा, संजय मिड्डा, राजकुमार तलवार,

शिवनंदन शर्मा, राजेश शर्मा, गुलशन सेठी, कर्मबीर सिंह, अर्जुन ग्रोवर और रिंकू कांबोज मौजूद रहे।

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments