Monday, July 22, 2024
Google search engine
HomeLatestगरीब व्यक्ति को सशक्त करना हरियाणा सरकार की प्राथमिकता- मुख्यमंत्री

गरीब व्यक्ति को सशक्त करना हरियाणा सरकार की प्राथमिकता- मुख्यमंत्री

Google search engine

Happy Yojna: हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री नायब सिंह सैनी ने कहा कि सरकार की सोच है कि गरीब व्यक्ति सशक्त हो और ऑनलाइन सेवा के माध्यम से घर बैठे उसे सरकार की योजनाओं का लाभ मिले। इसी कड़ी में आज प्रदेश के 35 स्थानों से हरियाणा अंत्योदय परिवार परिवहन योजना (हैप्पी) की शुरूआत की गई है। इसके तहत जिन परिवारों की आय एक लाख रुपये वार्षिक है, उन्हें हरियाणा परिवहन की बसों में एक हजार किलोमीटर सालाना फ्री यात्रा की सुविधा दी जाएगी। मुख्यमंत्री आज करनाल के डाॅ. मंगल सैन सभागार में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर बोल रहे थे।

हरियाणा सरकार की कईं ऑनलाइन योजनाओं का अध्ययन दूसरे राज्यों ने किया

उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार की कईं ऑनलाइन योजनाओं का अध्ययन दूसरे राज्यों ने किया है और अपने प्रदेश में इसे लागू किया है। उन्होंने कहा कि 2014 से पहले गरीब परिवारों को गैस सिलेंडर के लिए चक्कर काटने पड़ते थे। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने संपन्न लोगों से आह्वान किया कि वे एलपीजी पर सब्सिडी छोड़ दें और करोंड़ों लोगों ने सब्सिडी छोड़ी।

जिसके फलस्वरूप उज्ज्वला योजना का क्रियान्वयन किया गया और देश में 9.50 करोड़ निशुल्क एलपीजी गैस सिलेंडर और हरियाणा के अंदर भी 12 लाख गैस सिलेंडर वितरित किए गए हैं। प्रधानमंत्री ने ऐसी व्यवस्था की है कि गरीब व्यक्ति को हर योजना का लाभ सबसे पहले मिले। इसके लिए आयुष्मान कार्ड की योजना की शुरूआत की है जिसके तहत 5 लाख रुपये का ईलाज करवा सकता है। हरियाणा सरकार ने इस योजना का विस्तार करते हुए आयुष्मान भारत चिरायु हरियाणा योजना की शुरूआत की और सवा करोड़ व्यक्ति इस योजना का लाभ उठा रहे हैं।

Happy Yojna: बेटी की शादी के लिए 71 हजार रुपये की वित्तीय दे रही

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पिछले 10 वर्षों में 4 करोड़ मकान बनाकर गरीब व्यक्तियों को दिए जो आजादी के बाद गरीबों को मजबूत करने का उदाहरण है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 2029 तक 3 करोड़ और मकान बनाने का संकल्प लिया है। हरियाणा सरकार ने बीआर अम्बेडकर नवीनीकरण योजना के तहत मकान मरम्मत के लिए 80 हजार रुपये की राशि उपलब्ध करवाई जाती है।

कोविड के दौरान रेहड़ी-फड़ी वालों को 10-10 हजार रुपये के बिना ब्याज के ऋण उपलब्ध करवाए जाते है। हरियाणा सरकार मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना के तहत गरीब व्यक्ति की बेटी की शादी के लिए 71 हजार रुपये की वित्तीय दे रही है। हरियाणा देश का ऐसा पहला राज्य है जहां वृद्धावस्था सम्मान भत्ता के तहत 3 हजार रुपये की मासिक सहायता दी जाती है। अब योजना का लाभ लेने के लिए लोगों को दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ते, जैसे ही 60 वर्ष का होता है आॅनलाईन लाभार्थी की सूची में नाम शामिल हो जाता है।

Happy Yojna: सरकार ने गरीब व्यक्ति को सशक्त करने की योजनाएं बनाई

उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षों में केंद्र व राज्य सरकार ने गरीब व्यक्ति को सशक्त करने की योजनाएं बनाई हैं और लोगों को लगा कि सरकार हमारे हित की सरकार है। प्रधानमंत्री ने पिछले 10 वर्षों में देश के विकास को जो गति प्रदान की है उसे अगले 5 वर्षों में और अधिक गति प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि एनडीए गठबंधन ने श्री नरेंद्र मोदी को पुनः अपना नेता चुना है और शीघ्र ही वह तीसरी बार प्रधानमंत्री के पद की शपथ लेंगे।

Happy Yojna: श्री मनोहर लाल ने हैप्पी योजना की घोषणा की थी

उल्लेखनीय है कि करनाल जिले में 2 नवम्बर 2023 को अंत्योदय सम्मेलन के दौरान तत्कालीन मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने हैप्पी योजना की घोषणा की थी और 23 फरवरी 2024 को विधानसभा में बजट सत्र के दौरान इस योजना को अमली जामा पहनाने का काम किया था।

प्रदेश सरकार ने 7 मार्च 2024 को 1 लाख या 1 लाख से कम वार्षिक आय वाले परिवारों को हैप्पी कार्ड योजना का लाभ देना शुरू किया। इस स्कीम के तहत प्रदेश में लगभग 85 लाख लाभार्थियों को कार्ड वितरित किए जाएंगे और अब तक आदर्श आचार चुनाव संहिता से पहले 59 हजार 708 लोगों को कार्ड वितरित किए जा चुके हैं। इन लोगों ने 37.88 लाख किलोमीटर की यात्रा पूरी कर ली है।

स्मार्ट कार्ड जारी किए जाएंगे जो ई-टिकटिंग प्रणाली से लिंक होंगे

आज प्रदेश के कैथल, हिसार, जींद, फतेहाबाद, सिरसा, भिवानी, करनाल और कुरूक्षेत्र के जिले जुड़े हुए हैं और वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए 35 डिपो और सब डिपो साथ जुड़े। मुख्यमंत्री ने कईं जिलों में लाभार्थियों से सीधा संवाद किया और करनाल में 20 लाभार्थियों को हैप्पी कार्ड अपने कर कमलों से सौंपे और उन्हें बधाई दी।

प्रदेश में 22.89 लाख परिवारों के लगभग 84 लाख लोगों की वार्षिक आय 1 लाख से कम है और

इन सभी को योजना का लाभ मिलेगा। सभी लाभार्थियों को स्मार्ट कार्ड जारी किए जाएंगे जो

ई-टिकटिंग प्रणाली से लिंक होंगे और इससे लाभार्थी निःशुल्क यात्रा कर सकेंगे। प्रदेश सरकार की

तरफ से इस योजना पर लगभग 6 सौ करोड़ रूपए का बजट खर्च किया जाएगा।

Happy Yojna: अच्छे बस स्टैंडों का निर्माण किया जाएगा

इस अवसर पर परिवहन राज्य मंत्री असीम गोयल ने अपने संबोधन में कहा कि हैप्पी योजना देश

में अनूठी योजना है और परिवहन विभाग के अधिकारी योजना के क्रियान्वयन के लिए बधाई के

पात्र हैं। जैसे ही आचार संहिता खत्म हुई है प्रदेश में इस योजना की शुरूआत की है। सरकार की

सोच अंत्योदय की है अर्थात् अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति का उदय कैसे हो।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी बस स्टैंड में सफाई के लिए विशेष योजना तैयार की जा रही है।

लोगों को परिवहन की बसों में यात्रा करते समय लगे कि अपनी बस है और हैप्पी फीलिंग होनी

चाहिए। उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षों में जिस प्रकार से रेलवे स्टेशनों पर सफाई व्यवस्था की

गई है उसी प्रकार हरियाणा में सभी बस स्टैंडों पर सफाई की व्यवस्था की जाएगी। अच्छे बस

स्टैंडों का निर्माण किया जाएगा।

किलोमीटर स्कीम के तहत भी 500 से 1000 और बसें शामिल की जाएंगी

परिवहन विभाग के प्रधान सचिव नवदीप विर्क ने योजना के बारे विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने

कहा कि वर्तमान में परिवहन के बेड़े में 4200 से अधिक बसें हैं। आगामी 2 वर्षों में इसे बढ़ाकर

5300 की जाएगी, 1800 बीएस-6 बसें खरीदी जाएंगी, 150 एसी बसें खरीदी गई हैं और 500

और खरीदी जाएंगी। किलोमीटर स्कीम के तहत भी 500 से 1000 और बसें शामिल की जाएंगी।

उन्होंने कहा कि परिवहन विभाग में 36 नागरिक सेवाएं हैं जिनमें 29 आॅनलाईन कर दी गई हैं।

उन्होंने कहा कि अब लोगों को नई गाड़ी खरीदने उपरांत आरसी के लिए एसडीएम कार्यालय जाने

की जरूरत नहीं है। एजेंसी में ही आरसी मिलेगी।

Google search engine
RELATED ARTICLES

14 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments