Tuesday, July 16, 2024
Google search engine
HomeEntertainmentतापमान बढ़ाने के अलावा ये 5 तरह के फूड भी आपको करते...

तापमान बढ़ाने के अलावा ये 5 तरह के फूड भी आपको करते हैं डिहाइड्रेट, इनसे बचना जरूरी है

Google search engine

body in summer season: गर्मी के मौसम में शरीर को हाइड्रेटेड रखना बहुत जरूरी है, क्योंकि इस मौसम में शरीर से अत्यधिक पसीना निकलता है, जिससे शरीर से पानी बाहर निकल जाता है और शरीर डिहाइड्रेट हो जाता है। जब शरीर निर्जलित होता है, तो शरीर के लिए शारीरिक कार्य करना बहुत मुश्किल हो जाता है।

ऐसे में हाइड्रेशन बनाए रखने के लिए उचित मात्रा में पानी पीने के साथ-साथ कुछ खास हाइड्रेटिंग फल और सब्जियों का सेवन करने की सलाह दी जाती है, लेकिन कई बार इन सबके बावजूद भी हमारा शरीर डिहाइड्रेट हो जाता है।

सिर्फ खाना नहीं खाना

कुछ निर्जलीकरण करने वाले खाद्य पदार्थों से बचना और उनकी मात्रा पर नज़र रखना भी महत्वपूर्ण है। ऐसे कई डिहाइड्रेटिंग फल और सब्जियां हैं, जिनके सेवन से शरीर में पानी की कमी हो सकती है। ऐसे में अपने खान-पान का ध्यान रखें और इन पांच डिहाइड्रेटिंग फूड्स से बचें।

क्लिनिकल न्यूट्रिशनिस्ट लवनीत बत्रा ने कुछ डिहाइड्रेटिंग फूड्स के नाम सुझाए हैं और जितना हो सके इनसे परहेज करने की सलाह दी है और अगर आप इन्हें ले रहे हैं तो इनकी मात्रा (डिहाइड्रेटिंग फूड्स) पर नजर रखें।

body in summer season: यहां कुछ सामान्य निर्जलीकरण खाद्य पदार्थों के नाम जानें

सोडियम खाद्य पदार्थ अत्यधिक सोडियम का सेवन करने से शरीर में पानी की कमी हो सकती है। जब हम बड़ी मात्रा में सोडियम (नमक का सबसे आम रूप) युक्त खाद्य पदार्थ खाते हैं, तो यह पोषक तत्व रक्तप्रवाह में केंद्रित हो जाता है। जब रक्त में बहुत अधिक सोडियम होता है, तो यह इसकी लवणता और पीएच स्तर को प्रभावित कर सकता है।

शरीर के ठीक से काम करने के लिए

कोशिकाओं और रक्त को सामान्य मात्रा में लवणता की आवश्यकता होती है। यह पीएच और लवणता को सामान्य या

कम से कम निचले स्तर पर वापस लाने के लिए हमारी कोशिकाओं से पानी को रक्तप्रवाह में खींचता है। इसलिए

सोडियम की मात्रा पर नजर रखना बहुत जरूरी है।

body in summer season: चीनी मिलाई

जब रक्तप्रवाह में अत्यधिक मात्रा में शर्करा होती है, तो ऑस्मोसिस (पानी की गति) होती है, जो दोनों संरचनाओं के

बीच अधिक होमियोस्टैटिक शर्करा स्तर लाने के लिए कोशिकाओं से पानी को रक्त में खींचती है। जिसके कारण

हम निर्जलित हो जाते हैं। गुर्दे रक्त को फ़िल्टर करने और विषाक्त पदार्थों को निकालने का काम करते हैं,

जिसके परिणामस्वरूप इस सामान्य स्वीटनर में मूत्रवर्धक प्रभाव पाया जाता है। ऐसे में बार-बार पेशाब करने

की इच्छा होती है, जिससे शरीर से पानी निकलने लगता है और शरीर में पानी की कमी हो सकती है।

अधिक प्रोटीन का सेवन करना

हालाँकि इन दिनों हाई-प्रोटीन आहार का चलन है, लेकिन खाने के इन लोकप्रिय तरीकों के कुछ नुकसान भी हो

सकते हैं। जब प्रोटीन का सेवन बहुत अधिक मात्रा में किया जाता है तो यह शरीर को डिहाइड्रेट कर सकता है।

यह महत्वपूर्ण मैक्रोन्यूट्रिएंट शरीर में नाइट्रोजन में टूट जाता है, जहां इसे चयापचय के लिए अन्य पोषक तत्वों

की तुलना में अधिक पानी की आवश्यकता होती है।

body in summer season: प्रोटीन की अत्यधिक मात्रा

खाने से किडनी पर भी बोझ पड़ सकता है, जिससे बार-बार पेशाब करने की इच्छा होती है, क्योंकि यह

शरीर से अतिरिक्त नाइट्रोजन को हटा देता है, जिससे मूत्रवर्धक प्रभाव पैदा होता है।

हरी चाय

शरीर का निर्जलीकरण ग्रीन टी के सेवन की मात्रा और उसमें मौजूद कैफीन की मात्रा पर निर्भर करता है।

यदि आप अधिक मात्रा में ग्रीन टी का सेवन करते हैं, या दिन में 5 से 6 कप ग्रीन टी पी रहे हैं, तो यह

आपके शरीर द्वारा ठीक से अवशोषित नहीं हो पाएगी।

इसके चलते यह हुआ

आपके मूत्राशय को खाली करने की इच्छा आपको बार-बार परेशान कर सकती है, जिससे शरीर निर्जलित हो

सकता है। वहीं अगर आपके शरीर में पानी की कमी है और आप कुछ खा रहे हैं तो उसे पचाने में समय लगता है।

body in summer season: कॉफी

हम सभी हमेशा से सुनते आए हैं कि कॉफी के अधिक सेवन से शरीर में पानी की कमी हो सकती है।

कॉफी प्रकृति में मूत्रवर्धक है और यदि आप दो कप से अधिक कॉफी पीते हैं तो यह आपके शरीर

में सोडियम के पुनर्अवशोषण को रोक सकती है। इससे गंभीर निर्जलीकरण होता है। इसलिए आपको

इसके सेवन पर नियंत्रण रखने की जरूरत है।

Google search engine
RELATED ARTICLES

3 COMMENTS

  1. […] No. 49: दिल्ली के रेड लाइट एरिया जीबी रोड में सोमवार देर रात भीषण आग लग …दो मंजिलों को अपनी चपेट में ले लिया। […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments